Kalakaron Ke Haath

कलाकारों के हाथ

 

हाथों में हुनर, आंखों में सपने,

भारत के  कारीगर, सृजन के सच्चे दीवानें।

 

ताने-बाने में जिंदगी उकेरते,

मिट्टी को आकार, रंगों को महकाते।

 

चांदी को गढ़ते, पत्थर को तराशते,

संस्कृति की विरासत, पल-पल संवारते।

 

उनकी कारीगरी में, इतिहास झलकता है,

हर रचना में, भारत का दिल धड़कता है।

Back to blog

Leave a comment

Please note, comments need to be approved before they are published.